ऑनलाइन टीचिंग

मुख्य मॉडल

मुख्य मॉडल

मुख्य सचिवों के राष्ट्रीय सम्मेलन में छत्तीसगढ़ मॉडल की सराहना. मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने शिक्षा, कृषि और नगरीय विकास के बारे में दी जानकारी

रायपुर, 17 जून 2022। नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित मुख्य सचिवों को राष्ट्रीय सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने छत्तीसगढ़ मॉडल के बारे में प्रस्तुतिकरण दिया। उन्होंने शिक्षा, कृषि और नगरीय विकास के छत्तीसगढ़ मॉडल के बारे में विस्तार से बताया। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ मॉडल की नीति आयोग ने भी सराहना की है।

सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह, नगरीय प्रशासन विभाग की सचिव अलरमेल मंगई डी, स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव डॉ. एस. भारतीदासन, कलेक्टर दंतेवाड़ा दीपक सोनी, कलेक्टर गरियाबंद प्रभात मलिक भी मुख्य सचिव के साथ थे।

मॉडल आंचल यादव हत्याकांड में मुख्य आरोपित भाई को जमानत

पिछले वर्ष 25 मार्च 2019 में धमतरी मुख्य मॉडल की कथित मॉडल आंचल यादव की हत्या बालोद जिले के गुरुर थाना क्षेत्र के धानापुरी में हुई थी। घर में ही उनके भाई सिद्घार्थ यादव ने बहन का मुख्य मॉडल गला घोंटकर लाश को बांधकर नहर में फेंक ठिकाने लगाया था।

मॉडल आंचल यादव हत्याकांड में मुख्य आरोपित भाई को जमानत

बालोद (नईदुनिया न्यूज)। पिछले वर्ष 25 मार्च 2019 में धमतरी की कथित मॉडल आंचल यादव की हत्या बालोद जिले के गुरुर थाना क्षेत्र के धानापुरी में हुई थी। घर में ही उनके भाई सिद्घार्थ यादव ने बहन का गला घोंटकर लाश को बांधकर नहर में फेंक ठिकाने लगाया था। शव मिलने के बाद पुलिस ने भाई सिदार्थ यादव को हत्या के आरोप व मां को सबूत मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया था। लगभग 11 महीने तक जेल में रहने वाले आरोपित सिद्घार्थ यादव को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। बालोद के अधिवक्ता दीपक सामटकर ने आरोपित की पैरवी की है।

ज्ञात हो कि इस मॉडल की हत्या का मामला बालोद, धमतरी नहीं बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ में चर्चा का विषय रहा कि एक भाई अपनी बहन की गलत आदतों से तंग आकर इतना बड़ा कदम उठा लेगा। इस घटना में सामने आया कि बहन की आदतें इस कदर बिगड़ चुकी थी कि वह अपने भाई के नाम का ही कुत्ता पाल कर रखती थी। सिद्घार्थ को भी यह बात गवारा नहीं होता था और इसी बातों-बातों में आए दिन दोनों के बीच झगड़े होते थे। लेकिन किसी को क्या पता था कि छोटे-छोटे झगड़े एक दिन हत्या का रूप ले लेगी। पुलिस ने कई पहुलओं पर जांच के बाद अंततः कुछ सुराग हाथ लगने पर मुख्य मॉडल भाई को ही गिरफ्तार किया था। जो बालोद जेल में बंद था। कुछ दिन पहले हाईकोर्ट से जमानत मिली है।

इन आधारों पर मिली जमानत

इस हाईप्रोफाइल हत्या में जमानत दिलाना भी किसी चुनौती से कम नहीं था लेकिन वकील दीपक सामटकर की तर्कसंगत बहस के चलते कोर्ट ने जमानत दे दी। दरअसल में मामले में जमानत मिलने के पीछे गुरुर पुलिस की एक बड़ी चूक सामने आई। घटनास्थल पर आंचल यादव के कहीं पर कोई खून के छींटे ही नहीं थे। न ही उनके घर पर कोई खून के छींटे पड़े थे लेकिन पुलिस ने जब आरोपित भाई सिद्घार्थ को गिरफ्तार किया तो उन्होंने घर पर खून के छींटे मिलने बताए थे तो घटनास्थल से भी आंचल के शरीर से ब्लड सैंपल लेने की बात कही गई थी। जबकि सधााई यह थी कि पुलिस ने आरोपित की गिरफ्तारी के पहले अलग से खून निकालकर घर की दीवारों पर छींटा मार दिया था। पुलिस सबूत बनाने के लिए ऐसा की थी लेकिन वकील ने कुछ ऐसे तर्क पेश किए जिससे साबित हुआ कि घटना के पहले वहां कोई खून के छींटे नहीं थे। इन आधारों पर आरोपित भाई को हत्या के केस में जमानत मिल गई। वहीं वकील की पैरवी से गुरुर पुलिस की कार्रवाई पर भी सवाल निशान उठे हैं।

Balod News: आरोपित करता था अपनी पत्नी पर चरित्र शंका इसलिए पड़ोसी को उतारा मौत के घाट, दो आरोपित पकड़े गए

हाईप्रोफाइल लोगों के साथ था उठना-बैठना

बता दें कि इस कथित मॉडल आंचल यादव रायपुर में भी रहती थी। आलीशान मकान था। वहीं अपने हुस्न का जलवा बिखेरकर वह कम समय में ज्यादा पैसा कमाने की चाहत भी रखती थी। इसी चाहत को पूरा करने के लिए वह तंत्र मंत्र भी सीख रही थी। कोलकाता के एक बाबा के संपर्क में थी। कई नामी-गिरामी लोगों के साथ उसका उठना-बैठना भी था। फेसबुक सहित अन्य सोशल मीडिया पर उसके कई बोल्ड तस्वीरें भी पोस्ट हुई थी। इन सब हरकतों के चलते ही भाई उनसे चिढ़ता था और समझाता था कि यह सब हरकतें बंद कर दो। इससे हमारी भी बदनामी होती है लेकिन आंचल अपनी जिद पर अड़ी रहती थी और अपने मन की करती थी। इसी बात को लेकर 25 मार्च को मुख्य मॉडल धमतरी अपने घर आने के बाद भाई-बहन के बीच झगड़ा इतना बढ़ा कि पहले आंचल ने ही चाकू निकालकर अपनी भाई की कलाई पर वार कर दिया फिर गुस्से में आकर भाई ने भी अपनी बहन का गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। फिर सुराग छिपाने के लिए उसने आंचल यादव के हाथ पैर पीछे से बांधकर अपनी कार में छिपाकर गुरुर ब्लॉक के मोखा धानापुरी के बीच नहर में फेंक दिया था। जहां उसे पत्थरों से भी लाद कर पानी में डुबाया था लेकिन धीरे-धीरे लाश बाहर आ गई और इस हत्या का खुलासा हुआ।

पीजीबीटी की मॉडल परीक्षा और बीयू की मुख्य परीक्षा का प्रश्न पत्र हुबहू

नईदुनिया एक्सपोज बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि बिलासपुर यूनिवर्सिटी की मुख्य परीक्षा का प्रश्न पत्र हुबहू पीजीबीटी कॉलेज की मॉडल परीक्षा जैसा है। परीक्षार्थियों को इसकी जानकारी मिलने के बाद मॉडल परीक्षा का पेपर महंगे दामों में बिक रहा है। नईदुनिया की टीम ने मॉडल पेपर का अवलोकन किया तो वह प्रश्न पत्र से लगभग मेल खाता हुआ मिला। इस परीक्षा में दस सवाल प

पीजीबीटी की मॉडल परीक्षा और बीयू की मुख्य परीक्षा का प्रश्न पत्र हुबहू

बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बिलासपुर यूनिवर्सिटी की मुख्य परीक्षा का प्रश्न पत्र हुबहू पीजीबीटी कॉलेज की मॉडल परीक्षा जैसा है। परीक्षार्थियों को इसकी जानकारी मिलने के बाद मॉडल परीक्षा का पेपर महंगे दामों में बिक रहा है। नईदुनिया की टीम ने मॉडल पेपर का अवलोकन किया तो वह प्रश्न पत्र से लगभग मेल खाता हुआ मिला। इस परीक्षा में दस सवाल पूछे जाते हैं, जिसमें पांच के उत्तर देना होता है।

बीयू से संबद्ध बीएड कॉलेजों में 10 अप्रैल से कॉलेज की मुख्य परीक्षा शुरू हो गई है। वर्तमान में तीन विषय की परीक्षा ली जा चुकी है। लेकिन परीक्षा में उन्हीं प्रश्न पूछ जा रहे हैं, जो एक माह पूर्व मॉडल परीक्षा के दौरान पीजीबीटी कॉलेज बिलासपुर में पूछा गया था। अंतर केवल इतना है कि प्रश्न को घुमाकर पूछा गया है। लेकिन उत्तर वही है। मामले में जब नईदुनिया ने पड़ताल की तो चौंकाने वाले तथ्यों का खुलासा हुआ। बीएड की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों ने बताया कि जानकारी लगने के बाद बड़ी संख्या में छात्र उस मॉडल पेपर को खरीद रहे हैं। एक मॉडल पेपर 8 सौ रुपए तक में बिक रहा है। साफ है कि मॉडल पेपर से तैयारी करने वाले विद्यार्थी अच्छे नंबर से पास हो जाएंगे, जबकि साल भर मेहनत करने वाले परीक्षार्थियों को करारा झटका लगेगा।

ऐसे मुख्य मॉडल उजागर हुई लापरवाही

बीएड प्रथम वर्ष की मुख्य परीक्षा शुरू होने से पहले ही बाजार में पीजीबीटी के मॉडल पेपर पहुंच चुके थे। इस बात की जानकारी धीरे-धीरे परीक्षार्थियों को होने लगी। ऐसे में मॉडल पेपर की बिक्री जोरो से होने लगी। तक इसकी भनक नईदुनिया को लगी, ऐसे में दोनों प्रश्न पत्रों का मिलान किया गया, मुख्य मॉडल तब जाकर दोनों प्रश्न पत्र एक जैसे मिले।

दोनों प्रश्नपत्रों में ऐसी है समानता

मुख्य परीक्षा का प्रश्न- शिक्षा क्या है, शिक्षा के द्वारा व्यक्तिगत और सामाजिक विकास कैसे होता है, विवेचना कीजिए।

मॉडल परीक्षा का प्रश्न- शिक्षा से आपका अभिप्राय क्या है, हमारे जीवन में यह किस प्रकार एक सामाजिक प्रक्रिया है।

मुख्य परीक्षा का प्रश्न- महात्मा गांधी और जॉन डेविड के शैक्षिक विचारों की तुलनात्मक समीक्षा कीजिए, इक्कीसवीं सदी में आप किसको उपयुक्त मुख्य मॉडल मानते हैं।

मॉडल परीक्षा का प्रश्न- महात्मा गांधी के शिक्षा दर्शन का मूल्यांकन कीजिए।

UPSC IAS Mains Model Question Cum Answer Booklet (QCAB) - "General Studies Paper-1" सिविल सेवा (मुख्य) मुख्य मॉडल परीक्षा मॉडल प्रश्न सह उत्तर पुस्तिका - सामान्य अध्ययन पेपर - I

UPSC IAS Mains Model Question Cum Answer Booklet (QCAB) - "General Studies Paper-1" सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा मॉडल प्रश्न सह उत्तर पुस्तिका - सामान्य अध्ययन पेपर - I

Exam Name: UPSC मुख्य मॉडल IAS Mains

Subject: General Studies Paper-1 सामान्य अध्ययन पेपर - I

Download Full Model Question Cum Answer Booklet

UPSC, IAS Mains Previous Year Question Papers

IAS Mains General Studies Study Kit

Common mistakes committed by the candidates in Descriptive Papers Answer Booklet (QCAB)

UPSC IAS STUDY NOTES

Whats Hot!

Downloads

UPSC 2023-24 | Papers | Study Notes | Coaching | E-Books

Disclaimer: IAS EXAM PORTAL (UPSC PORTAL) is not associated with Union Public Service Commission, For UPSC official website visit - www.upsc.gov.in

© 2006-2022 IAS EXAM PORTAL - India's Largest Online Community for IAS, Civil Services Aspirants.

रेटिंग: 4.18
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 471
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *