मुद्रा हेजिंग

Share market क्या होता है

Share market क्या होता है
Photo:INDIA TV Share Market में निवेश की शुरुआत करने से पहले ये जानें

Stock Market- स्टॉक मार्केट

क्या होता है स्टॉक मार्केट?
स्टॉक मार्केट (Stock Market) बाजारों और एक्सचेंजों के एक संग्रह को संदर्भित करता है, जहां पब्लिकली हेल्ड कंपनियों के शेयरों की खरीद, बिक्री और जारी करने की नियमित गतिविधियां होती हैं। ऐसी वित्तीय गतिविधियां संस्थाकृत औपचारिक एक्सचेंजों या ओवर द काउंटर (ओटीसी) मार्केटप्लेसों के जरिये Share market क्या होता है संचालित होती हैं जो नियमनों के एक निर्धारित सेट के तहत ऑपरेट करती हैं। किसी एक देश या क्षेत्र में विविध स्टॉक Share market क्या होता है ट्रेडिंग स्थान हो सकते हैं जो स्टॉक्स और सिक्योरिटीज के अन्य प्रकारों में ट्रांजेक्शन की अनुमति देते हैं। हालांकि इसके लिए स्टॉक मार्केट और स्टॉक एक्सचेंज दोनों का ही परस्पर उपयोग किया जाता है, स्टॉक एक्सचेंज अक्सर स्टॉक मार्केट का एक सबसेट होता है।

अगर कोई यह कहता है कि वह स्टॉक मार्केट में ट्रेड करता है तो इसका अर्थ है कि वह किसी स्टॉक एक्सचेंज पर शेयरों/इक्विटियों की खरीद या बिक्री करता है, जो कुल स्टॉक मार्केट का एक हिस्सा है। अमेरिका के प्रमुख स्टॉक एक्सचेंजों में न्यूयार्क स्टॉक एक्सचेंज (एनवाईएसई), नास्दक और शिकागो बोर्ड ऑप्शंस एक्सचेंज (सीबीओई) शामिल हैं। भारत के दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (एनएसई) हैं।स्टॉक मार्केट या इक्विटी मार्केट, मुख्य रूप से स्टॉक/इक्विटीज, एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ), कॉरपोरेट बॉन्ड की ट्रेडिंग के लिए जाना जाता है और स्टॉक मार्केट में अन्य फाइनेंशियल सिक्योरिटीज व स्टॉक, कमोडिटीज और बॉन्ड्स पर आधारित डेरिवेटिव की भी ट्रेडिंग होती है।

स्टॉक मार्केट को समझना
आज जहां यह संभव है कि लगभग हर चीज की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जा सके, प्रत्येक कमोडिटी के लिए आम तौर पर एक निर्धारित बाजार होता है। संक्षेप में, स्टॉक मार्केट एक सुरक्षित और रेगुलेटेड माहौल उपलब्ध Share market क्या होता है कराता है जहां बाजार में भाग लेने वाले शून्य से निम्न प्रचालनगत जोखिम और विश्वास के साथ शेयरों व अन्य योग्य फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट में ट्रांजेक्ट कर सकते हैं।

Stock Market: शेयर बाजार क्या है?

अगर शाब्दिक अर्थ में कहें तो शेयर बाजार किसी सूचीबद्ध कंपनी में हिस्सेदारी खरीदने-बेचने की जगह है.

stock-market-thinkstocks-

BSE या NSE में ही किसी लिस्टेड कंपनी के शेयर ब्रोकर के माध्यम से खरीदे और बेचे जाते हैं. शेयर बाजार (Stock Market) में हालांकि बांड, म्युचुअल फंड और डेरिवेटिव का भी व्यापार होता है.

स्टॉक बाजार या शेयर बाजार में बड़े रिटर्न की उम्मीद के साथ घरेलू के साथ-साथ विदेशी निवेशक (FII या FPI) भी काफी निवेश करते हैं.

शेयर खरीदने का मतलब क्या है?
मान लीजिये कि NSE में सूचीबद्ध किसी कंपनी ने कुल 10 लाख शेयर जारी किए हैं. आप उस कंपनी के प्रस्ताव के अनुसार जितने शेयर खरीद लेते हैं आपका उस कंपनी में उतने हिस्से का मालिकाना हक हो गया. आप अपने हिस्से के शेयर किसी अन्य खरीदार को जब भी चाहें बेच सकते हैं.

कंपनी जब शेयर जारी करती है उस वक्त किसी Share market क्या होता है व्यक्ति या समूह को कितने शेयर देना है, यह उसके विवेक पर निर्भर है. शेयर बाजार (Stock Market) से शेयर खरीदने/बेचने के लिए आपको ब्रोकर की मदद लेनी होती है.

ब्रोकर शेयर खरीदने-बेचने में अपने ग्राहकों से कमीशन चार्ज करते हैं.

किसी लिस्टेड कंपनी के शेयरों का मूल्य BSE/NSE में दर्ज होता है. सभी सूचीबद्ध कंपनियों के शेयरों का मूल्य उनकी लाभ कमाने की क्षमता के अनुसार घटता-बढ़ता रहता है. सभी शेयर बाजार (Stock Market) का नियंत्रण भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी या SEBI) के हाथ में होता है.

Sebi की अनुमति के बाद ही कोई कंपनी शेयर बाजार (Stock Market) में लिस्ट होकर अपना प्रारंभिक निर्गम इश्यू (आईपीओ या IPO) जारी कर सकती है.

प्रत्येक तिमाही/छमाही या सालाना आधार पर कंपनियां मुनाफा कमाने पर हिस्साधारकों को लाभांश देती है. कंपनी की गतिविधियों की जानकारी SEBI और BSE/NSE की वेबसाइट पर भी उपलब्ध होती है.

कोई कंपनी BSE/NSE में कैसे लिस्ट होती है?
शेयर बाजार (Stock Market) में लिस्ट होने के लिए कंपनी को शेयर बाजार से लिखित समझौता करना पड़ता है. इसके बाद कंपनी पूंजी बाजार नियामक SEBI के पास अपने सभी जरूरी दस्तावेज जमा करती है. SEBI की जांच में सूचना सही होने और सभी शर्त के पूरा करते ही कंपनी BSE/NSE में लिस्ट हो जाती है.

इसके बाद कंपनी अपनी हर गतिविधि की जानकारी शेयर बाजार (Stock Market) को समय-समय पर देती रहती है. इनमें खास तौर पर ऐसी जानकारियां शामिल होती हैं, जिससे निवेशकों के हित प्रभावित होते हों.

शेयरों के भाव में उतार-चढ़ाव क्यों आता है?
किसी कंपनी के कामकाज, ऑर्डर मिलने या छिन जाने, नतीजे बेहतर रहने, मुनाफा बढ़ने/घटने जैसी जानकारियों Share market क्या होता है के आधार पर उस कंपनी का मूल्यांकन होता है. चूंकि लिस्टेड कंपनी रोज कारोबार करती रहती है और उसकी स्थितियों में रोज कुछ न कुछ बदलाव होता है, इस मूल्यांकन के आधार पर मांग घटने-बढ़ने से उसके शेयरों की कीमतों में उतार-चढाव आता रहता है.

अगर कोई कंपनी लिस्टिंग समझौते से जुड़ी शर्त का पालन नहीं करती, तो उसे सेबी BSE/NSE से डीलिस्ट कर देती है.

शायद आपको पता न हो, विश्व के सबसे अमीर व्यक्तियों में शामिल वारेन बफे भी शेयर बाजार (Stock Market) में ही निवेश कर अरबपति बने हैं.

आप कैसे कर सकते हैं शेयर बाजार में निवेश की शुरूआत?
आपको सबसे पहले किसी ब्रोकर की मदद से डीमैट अकाउंट खुलवाना होगा. इसके बाद आपको डीमैट अकाउंट को अपने बैंक अकाउंट से लिंक करना होगा.

बैंक अकाउंट से आप अपने डीमैट अकाउंट में फंड ट्रांसफर कीजिये और ब्रोकर की वेबसाइट से खुद लॉग इन कर या उसे आर्डर देकर किसी कंपनी के शेयर खरीद लीजिये.

इसके बाद वह शेयर आपके डीमैट अकाउंट में ट्रांसफर हो जायेंगे. आप जब चाहें उसे किसी कामकाजी दिन में ब्रोकर के माध्यम से ही बेच सकते हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

शेयर मार्केट क्या है

शेयर मार्केट वह बाजार होता है, जहाँ पर अलग – अलग विभिन्न कंपनियों के शेयर बेचने और खरीदने का काम किया जाता हैं | यह बाजार किसी सामान्य बाजार से अलग नहीं बल्कि यह शेयर मार्केट भी दूसरे सामान्य बाजार की तरह होता है, जहाँ पर जाकर लोग शेयर की खरीद बिक्री करते हैं इसका काम अब ऑफलाइन के साथ-साथ ऑनलाइन भी किया जा सकता है |

इसलिए यदि आप भी शेयर मार्केट के विषय में जानना चाहते है, तो यहाँ पर आपको शेयर मार्केट क्या है ,Share Market में निवेश कैसे करे | इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

शेयर मार्केट की जानकारी

Table of Contents

शेयर मार्केट एक ऐसी मार्केट हैं, जहाँ पर कंपनियां अपने शेयर को मार्केट में आम जनता के खरीद बिक्री करने के लिए जारी कर देती है, और इसके बाद इसी के जरिये कंपनियां अपने बिज़नेस में हिस्सेदारी खरीदने का जनता को मौका प्रदान करती है | इसके बाद जो लोग शेयर को खरीदने का काम करते है वो उस कंपनी के हिस्सेदार बन जाते हैं | यदि किसी की भी स्टॉक की कीमत में किसी भी तरह का उतार चढ़ाव होता है तो वह उस कंपनी की स्थिति पर निर्भर करता है|

वहीं, यदि हम Stock Market की बात करें तो, यह एक ऐसी मार्केट होती है, जिसमें बहुत ही कम समय में पैसे कमाए जाते हैं लेकिन, यदि इसमें मुनाफा न हुआ तो, इसमें बड़ी तदाद में ऐसे डूब जाने की संभावना अधिक होती है लेकिन ऐसा तभी होता है, जब किसी ट्रेड में और Company के बिज़नेस में उतार चढ़ाव होता है, यह उस कम्पनी के उतार चढ़ाव पर आधारित है |

शेयर मार्केट में निवेश कैसे करे

शेयर मार्किट के लिए आप ऑफ़लाइन और ऑनलाइन दोनों ही तरीके से निवेश कर सकते है लेकिन इन्वेस्ट चाहे जैसे किया जाए, इसके लिए आपको एक Stock Broker की आवश्यकता जरूर होती है, क्योंकि शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के लिए आप इसमें directly प्रवेश नहीं कर सकते हैं | इसलिए यह आप किसी भी शेयर को खरीदने या बेचने का काम करते है, तो इसके लिए आपके पास एक Stock Broker का होना बहुत ही आवश्यक होता है, क्योंकि एक Investor ही आपको इस बाजार तक पहुंचाने में मदद करता है |

शेयर मार्केट में निवेश करने के लिए आपको Market में मदद करने के लिए कई Broker मिल जायेंगे जैसे Zerodha, Sharekhan, Angel Broking, ICICI Direct इत्यादि | इन ब्रोकर्स से संपर्क करने पर ये आपके लिए अकाउंट खोलने के काम को पूरा कर देंगे, जिससे आप इसमें Invest कर सकते है

इन्वेस्टमेंट के लिए खोले जाने वाले अकाउंट

    .
  1. Trading Account.

जब आपके ये दोनों Account एक Stock Broker के माध्यम से खोल दिए जाते हैं, तो आप इसके बाद से ही अपना हिस्सा खरीदने और बेचने का काम भी प्रारम्भ कर सकते है इसके अलावा मार्केट में मिनिमम इन्वेस्टमेंट करने के लिए किसी भी प्रकार कोई भी नियम नहीं बनाया गया है और न ही किसी भी प्रकार की लिमिट तय की गई है | इसमें आप अपने बजट के अनुसार निवेश कर सकते है | इसलिए आप निवेश करने के लिए $1 कीमत वाले शेयर भी खरीद सकते हैं और आप अपने बजट के मुताबिक़ stock खरीद सकते हैं लेकिन आपको बाजार में Invest करने के लिए अच्छे Stock Broker का चुनाव करना बहुत ही अनिवार्य होता है |

ऑनलाइन शेयर के लिए निवेश कैसे करें

ऑनलाइन शेयर में निवेश करने के लिए आपके पास सबसे Share market क्या होता है Share market क्या होता है पहले Demat Account होना बहुत ही जरूरी होता है , जिसे आप एक Broker के माध्यम से आसानी के साथ खुलवा सकते है | इसके अलावा आप आपका जिस भी बैंक में Saving अकाउंट है वहां से भी आप Demat Account खुलवा सकते हैं |

इसलिए यदि आप Demat Acount खुलवाते है, तो आपके पास Saving Account का होना भी अतिआवश्यक है और इसके साथ ही आपके पास Internet banking भी होना चाहिए ।

Demat Account के लिए आवश्यक दस्तावेज

    .
  • Address Proof.
  • Passport Size Photos.
  • Account Check Book.

शेयर खरीदने से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी

  1. यदि आप Stock Market में निवेश करते है, तो इसके लिए आपके पास बैंक एकाउंट, Demat एकाउंट, Trading एकाउंट का होना बहुत ही जरूरी होता है |
  2. Invest करने से पहले आप जिस कम्पनी में निवेश करना चाहते Share market क्या होता है हैं उस कंपनी की बिज़नेस कैसी है, परफॉरमेंस कैसी है | कंपनी की मैनेजमेंट अच्छी है या नहीं | इस बात की पूरी जानकारी होनी चाहिए |
  3. शेयर खरीदने के लिए Investors को अच्छे fundamentals वाली कंपनियों में ही पैसे लगाने की जरूरत है |

यहाँ पर हमने आपको शेयर मार्केट के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | अन्य सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए कमेंट करे | अधिक जानकारी के लिए पोर्टल hindiraj.com पर विजिट करे |

Share Market में करना चाहते हैं निवेश की शुरुआत, जानिए शेयर बाजार की ABCD

Share Market में अगर आप निवेश करने की प्लानिंग बना रहे हैं तो पैसा डुबे इससे पहले थोड़ी जानकारी उसके बारे में ले लें, ताकि आपको बेसिक जानकारी हो सकें और आपका ज्यादा रिटर्न अपने शेयर पर ले सकें।

Vikash Tiwary

Edited By: Vikash Tiwary @ivikashtiwary Share market क्या होता है
Updated on: November 05, 2022 19:07 IST

Share Market में निवेश की शुरुआत करने से पहले ये जानें- India TV Hindi

Photo:INDIA TV Share Market में निवेश की शुरुआत करने से पहले ये जानें

What is Share Market: शेयर मार्केट में निवेश करना जोखिमों से भरा होता है। अगर आप नए हैं, आपने इससे पहले कभी किसी स्टॉक (Stock) में निवेश नहीं किया है और आपको इस बात की जानकारी नहीं है कि शेयर मार्केट क्या होता है और यह कैसे काम करता है? क्या स्टॉक मार्केट में सिर्फ शेयर ही खरीदे-बेचे जाते हैं? तो आज हम आपके इन सभी सवालों का जवाब इस खबर में देने जा रहे हैं।

शेयर मार्केट क्या है?

शेयर मार्केट एक ऐसा बाजार है, जहां खरीदार BSE(Bombay Stock Exchange) और NSE(National Stock Exchange) पर सूचीबद्ध शेयरों की खरीद-बिक्री करते हैं। यह सेबी(Securities and Exchange Board of India) के देखरेख में काम करता है। सेबी भारत सरकार की संस्था है जो शेयर बाजार में लिस्टेड कंपनियों पर नजर रखती है ताकि वह ग्राहक के साथ फ्रॉड ना कर सके। इसे दो भाग में क्लासिफाइड किया गया है। प्राइमरी और सेकेंडरी।

क्या है प्राइमरी और सेकेंडरी मार्केट?

जब कोई कंपनी शेयरों के माध्यम से धन जुटाने के लिए पहली बार स्टॉक एक्सचेंज में खुद को रजिस्टर करती है तो उसे प्राइमरी कैटेगरी में रखा जाता है, वहीं एक बार जब कंपनी की नई सिक्योरिटी को प्राइमरी मार्केट में बेच दिया जाता है, तब उसका कारोबार सेकेंडरी में किया जाने लगता है। यहां निवेशकों को बाजार की मौजूदा कीमतों पर शेयर खरीदने और बेचने का मौका मिलता है।

शेयर के आलावा इनमें भी कर सकते हैं निवेश

स्टॉक एक्सचेंज में इन चार रूप (शेयर, बांड, म्यूचुअल फंड और Derivatives) में ट्रेडिंग होती है, जिसमें सबसे पहला स्थान शेयर का होता है। अगर आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते हैं तो आप उस कंपनी के उतने फीसदी के हिस्सेदार हो जाते हैं। कंपनी के नफा-नुकसान का असर सीधे आपके उपर पड़ता है।

बांड लंबी अवधि के लिए खरीदे जाते हैं। जब एक कंपनी को पर्याप्त पूंजी की आवश्यकता होती है। पूंजी जुटाने का एक तरीका जनता को बांड जारी करना होता है। ये बांड कंपनी द्वारा लिए गए "ऋण" का प्रतिनिधित्व करते हैं। बांडधारक कंपनी के लेनदार बन जाते हैं और कूपन के रूप में समय पर ब्याज भुगतान प्राप्त करते हैं।

म्यूचुअल फंड कौन ऑपरेट करता है?

म्यूचुअल फंड एक ऐसा फंड है, जो AMC यानी एसेट मैनेजमेंट कंपनीज ऑपरेट करती है। इन कंपनियों में कई लोग अपने पैसे निवेश करते हैं। म्यूचुअल फंड द्वारा इन पैसों को बॉन्ड, शेयर मार्केट समेत कई जगहों पर निवेश किया जाता है। वहीं अगर बात डेरीवेटिव फंड की की जाए तो यह एक वित्तीय अनुबंध है जो एक या अधिक अंतर्निहित परिसंपत्तियों से इसके मूल्य को प्राप्त करता है।

रेटिंग: 4.91
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 751
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *