अध्ययन का सामग्री

Share Market में निवेश करने के तरीके

Share Market में निवेश करने के तरीके
शेयर बाजार Share Bazar में कारोबार के लिए आपके पास बैंक सेविंग्स अकाउंट भी होना जरूरी है, ताकि शेयरों की बिक्री से मिलने वाली रकम या शेयर खरीदने के लिए पैसों का भुगतान किया जा सके। कंपनियां अपने निवेशकों को डिविडेंड का भुगतान भी उसी बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करती हैं। कई ब्रोकर्स अपने ग्राहकों को तीनों अकाउंट की सुविधा देते हैं।

शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं, तो जरूरी है Demat Account होना, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

शेयर बाजार में निवेश (Share Bazar Mein Invest) कैसे करें

शेयर बाजार में निवेश (Share Bazar Mein Invest) को लेकर पिछले कुछ सालों में भारतीयों में काफी जागरूकता बढ़ी है। अगर आप भी शेयर बाजार में निवेश (Share Bazar Mein Invest) करना चाह रहे हैं, लेकिन समझ में नहीं आ रहा है कि कैसे निवेश करना है, तो यहां जानें इसका तरीका। शेयर बाजार में निवेश (Share Bazar Mein Invest) करना अब काफी आसान है। आप कहीं भी बैठे बैठे शेयर बाजार (Share Bazar) में ऑनलाइन निवेश कर सकते हैं। अब तो मोबाइल से शेयर बाजार में निवेश (Share Bazar Mein Invest) करने का तरीका लोकप्रिय Share Market में निवेश करने के तरीके हो रहा है।

Table of Contents

सेविंग्स अकाउंट, डीमैट एकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट: (Savings, Trading and Demat A/c)

जिस तरह से बैंकों से लेन-देन के लिए बैंक सेविंग्स अकाउंट की जरूरत होती है, उसी तरह शेयर बाजार (Share Bazar) में पैसे लगाकर पैसा कमाने के लिए तीन तरह के अकाउंट की जरूरत होती है- पहला, बैंक सेविंग्स अकाउंट, डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट। ये तीनों अकाउंट एक दूसरे से जुड़े रहते हैं।

Need a customized investment portfolio?

ट्रेडिंग अकाउंट (Trading Account)

यह एक ऐसा खाता है, जिसमे निवेशक या ट्रेडर के शेयर बेचने के बाद मिला पैसा या फिर शेयर खरीदने के लिए जरूरी पैसा जमा होता है। यह अकाउंट कैसे काम करता है यह भी जान लें। सबसे पहले निवेशक या ट्रेडर अपने ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा जमा करते है। उसके बाद वे जिस शेयर को खरीदना या बेचना चाहते हैं, उन शेयर का दाम देखते हैं। इसके बाद वे उस शेयर के दाम के हिसाब से खरीदने या बेचने का ऑर्डर रखते है। यह ऑर्डर स्टॉक एक्सचेंज यानी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) या नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) पर पहुंचता है। इस ऑर्डर का काउंटर ऑर्डर मिल जाए तो यह ऑर्डर लागू हो जाता है।

अगर शेयर खरीदने का ऑर्डर रखा गया था, तो शेयर खरीदे जाते हैं। साथ ही, इसके पैसे लगने वाले टैक्स और चार्ज के साथ ट्रेडिंग अकाउंट में से कट जाते है और शेयर डीमैट अकाउंट में दो दिन में जमा हो जाते हैं। लेकिन अगर शेयर बेचने का ऑर्डर रखा होगा तो शेयर बेच दिए जाएंगे और उसका पैसा टैक्स और ब्रोकरेज काट कर ट्रेडिंग अकाउंट में जमा कर दिया जाएगा। इस तरह ट्रेडिंग अकाउंट काम करता है।

Share Market में निवेश करने के तरीके

Investments in securities are subject to market risks. Read all the documents or product details carefully before investing. WealthDesk Platform facilitates offering of WealthBaskets by SEBI registered entities, termed as "WealthBasket Managers" on this platform. Investments in WealthBaskets are subject to the Terms of Service.

WealthDesk is a platform that lets Share Market में निवेश करने के तरीके you invest in systematic, modern investment products called WealthBasket.

WealthDesk Unit No. 001, Ground Floor, Boston House, Suren Road, Off. Andheri-Kurla Road, Andheri (East), Mumbai, Mumbai City, Maharashtra- 400093

© 2022 Wealth Technology & Services Private Limited. CIN: U74999MH2016PTC281896

कैसे खोलें Share Market में निवेश करने के तरीके डीमैट खाता

- शेयरों में ऑनलाइन निवेश करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी डीमैट खाता होता है. आप इसे HDFC सिक्योरिटीज, ICICI डायरेक्ट, Axis डायरेक्ट जैसे किसी भी ब्रोकरेज के पास खुलवा सकते हैं.

- ब्रोकरेज फर्म का फैसला लेने के बाद आप उसकी वेबसाइट पर जाकर डीमैट अकाउंट ओपन करने का फॉर्म सावधानी से भरने के बाद उसकी KYC प्रोसेस को पूरा करें.

- KYC के लिए फोटो आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ के लिए डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी. जब ये प्रोसेस पूरी हो जाएगा तो उसके बाद इन-पर्सन वेरिफिकेशन होगा. संभव है जिस फर्म से आप डीमैट अकाउंट खुलवा रहे हों, वो अपने सर्विस प्रोवाइडर के दफ्तर आपको बुलवाएं.

- इस प्रोसेस को पूरा होने के बाद आप ब्रोकरेज फर्म के साथ टर्म ऑफ एग्रीमेंट साइन करते है. ऐसा करने के बाद आपका डीमैट अकाउंट खुल जाता है.

- फिर आपको डीमैट नंबर और एक क्लाइंट आईडी दी जाएगी.

कौन खोलेगा डीमैट खाता

इंडिया में डीमैट खाता खोलने का काम दो संस्थाएं करती है. जिसमें पहली है NSDL (National Securities Depository Limited) और दूसरी है CDSL (central securities depository limited). 500 से अधिक एजेंट्स इन depositories के लिए काम करते है, जिनको आम भाषा में डीपी भी कहा जाता है. इनका काम डीमैट अकाउंट खोलना होता है.

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी शर्त होती है कि जो व्यक्ति शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट खुलवा रहा हो उसकी उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए. साथ ही इसके लिए उस व्यक्ति के पास पैन कार्ड, बैंक अकाउंट आइडेंटिटी और एड्रेस प्रूफ होना जरूरी है.

शेयर बाजार में कौन कौन निवेश कर सकता है ?

Zerodha

शेयर बाजार में कौन कौन निवेश कर सकता है ? क्या शेयर बाजार में शुरुआत करने के लिए कोई नियम है? क्या किसी तरह की उम्र की सीमा, पढाई लिखाई, या किसी तरह की योग्यता का नियम है?

आइए आज के इस आर्टिकल में हम इस को डिटेल में समझने की कोशिश करते है कि – शेयर बाजार में कौन कौन निवेश कर सकता है ?

शेयर बाजार में निवेश

शेयर बाजार में निवेश करने का Share Market में निवेश करने के तरीके मतलब होता है – शेयर बाजार जैसे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज या बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनी के शेयर खरीदना, और उस ख़रीदे गए शेयर को अपने पास रखना, जैसे ही आप किसी कम्पनी का शेयर खरीद लेते है, तो आपको उस कंपनी में कुछ हिस्से के मालिक हो जाता है, और जैसे जैसे कंपनी लाभ कमाती है और डिविडेंड की घोषना करती है तो Share Market में निवेश करने के तरीके आपको डिविडेंड का लाभ मिलता है, और बाद में कंपनी के शेयर के भाव बढ़ने पर आप उसे वापस शेयर बाजार (BSE या NSE) पर बेच कर लाभ कमा सकते है,

शेयर बाजार से सम्बंधित इन पोस्ट को जरुर पढ़े –

शेयर बाजार में कौन कौन निवेश कर सकता है ?

अगर बात करे कि शेयर बाजार में कौन कौन निवेश कर सकता है, तो एक लाइन में इसका जवाब ये होगा कि- भारतीय शेयर बाजार में अभी तक ऐसा कोई नियम नहीं बना है कि जिसमे किसी तरह की कोई सीमा तय की Share Market में निवेश करने के तरीके गई है, कि आपके पास अमुक योग्यता होनी ही चाहिए तभी आप निवेश कर सकते है,

शेयर बाजार बिल्कुल भारतीय लोकतंत्र की तरह ही सबके लिए है, यानि आपको शेयर बाजार में निवेश करने के लिए सिर्फ आपके पास DEMAT अकाउंट और TRADING अकाउंट खुला होना चाहिए,

ताकि आप अपने ट्रेडिंग अकाउंट की मदद से स्टॉक ब्रोकर को शेयर खरदीने का आर्डर दे सके, और एक बार जब आप शेयर खरीद ले तो वह शेयर आपके DEMAT अकाउंट में जमा हो जाये,

तो इस तरह इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने पढ़े लिखे है, आप कितना कमाते है, आपकी उम्र कितनी है, आप कहा के रहने वाले है, समझने वाली बात ये है कि – फ़िलहाल शेयर बाजार में निवेश की शुरुआत करने के लिए आपके पास सिर्फ बैंक अकाउंट, तथा DEMAT और TRADING अकाउंट होना चाहिए,

काम की बात: बाजार की गिरावट में भी सही रणनीति बनाकर कर सकते हैं कमाई, इन 7 बातों का रखें ध्यान

इस हफ्ते शेयर मार्केट में 2943 पॉइंट्स यानी 5.41% की गिरावट देखी गई। इस गिरावट से निवेशकों में डर का माहौल बना हुआ है। हालांकि एक्सपर्ट्स के अनुसार इस गिरावट में सही स्ट्रैटेजी आपको अच्छा पैसा कमा के दे सकती है। हम आपको ऐसी 7 बातों के बारे में बता रहे हैं जिनकी मदद से आप बाजार की गिरावट में पैसा कमा सकते हैं।

अनुशासन बनाए रखें
पोर्टफोलियो में नाटकीय रूप से बदलाव करते रहने से जोखिम बढ़ता है। ऐसी आदत लंबी अवधि के लक्ष्यों पर नकारात्मक असर डाल सकती है। बेहतर होगा कि बाजार में फौरी उतार-चढ़ाव को नजरअंदाज करें और अनुशासन बनाए रखें। यदि पोर्टफोलियो में बदलाव जरूरी लगे तो छोटे-छोटे बदलाव करें।

रेटिंग: 4.45
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 661
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *