प्रवृत्ति पर व्यापार

बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है?

बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है?
डिजिटल करेंसी भी एक तरह की वर्चुअल करेंसी ही लेकिन यह Online उपलब्ध होने के साथ ही आपके हार्ड डिस्क में भी स्टोर की जा सकती है और मान लीजिए कि सेवा प्रदाता की साइट बंद है तो बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? भी आप अपने हार्ड डिस्क् में स्टोर करेंसी से Online भुगतान कर सकते हैं, इस श्रेणी में माइक्रोसॉफ्ट पॉइंट्स, डब्ल्यूआईआई पॉइंट्स, फेसबुक पॉइंट्स और क्रिप्टोकरेंसी को शामिल किया जा सकता है. अब आते हैं क्रिप्टोकरेंसी पर जो वर्चुअल करेंसी बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? भी और डिजिटल करेंसी भी.

all about cryptocurrency बिटकॉइन in hindi

बिटकॉइन bitcoin का मूल्य डॉलर से ज्यादा होने के बाद​ क्रिप्टोक्वाइन cryptocoin एक बार फिर सुर्खियों में है और जो विश्लेषक इस मुद्रा को अब तक हल्के में ले रहे थे, वे भी अब गंभीरता से इस पर विचार करने लगे हैं.

बिटक्वाइन की प्रसिद्धि के बीच ऐसी ढेरों क्रिप्टोकरेंसीज cyyptocurrencies हैं जो पूरी दुनिया के अलग—अलग हिस्सों में उपयोग में ली जाती हैं और उनकी स्वीकार्यता भी बढ़ती जा रहा है. इस लेख में हम क्रिप्टोकरेंसी के कॉन्सेप्ट और उसके उपयोग को लेकर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब देने की कोशिश कर रहे हैं.

क्या होती है क्रिप्टोकरेंसी? What is cryptocurrency?

Cryptocurrency क्रिप्टोकरेंसी शब्द बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? की उत्पति क्रिप्टोग्राफी से हुई है. क्रिप्शन वर्चुअल दुनिया में एक जाना माना एक शब्द है, यह एक तरह से कोड का निर्माण होता है जो कम्प्यूटर को दिये गए निर्देश के अनुसार काम करता है. इस कोड इनक्रिप्शन या वर्चुअल वर्ल्ड में काम में ली जाने वाली आभासी मुद्रा ही क्रिप्टोकरेंसी कहलाती है. अगर आम भाषा में बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? बात करें तो डिजिटल करेंसी ही क्रिप्टोकरेंसी है.

किप्टोकरेंसी Cryptocurrency दरसअल एक तरह का एल्गोरिथ्म है जिसे कम्प्यूटर पढ़ सकता है और कोई भी इसे परिवर्तित नहीं कर सकता है. इस प्रक्रिया में क्रिप्टोग्राफी को आधार बनाते हुए एक यूनिट का निर्माण किया जाता है जो हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का उपयोग करके मुद्रा की कीमत निर्धारित करता है जिसे आम बोलचाल में कॉइन कहा जाता है जैसे बिटकॉइन, आॅल्टकॉइन, और लिटकॉइन.

कितनी तरह की क्रिप्टोकरेंसी? List of Cryptocurrency

क्रिप्टोकरेंसी की लोकप्रियता को देखते हुए इसकी संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है क्योंकि ओपन सोर्स कॉन्सेप्ट होने के कारण कोई भी क्रिप्टोकरेंसी का निर्माण कर सकता है. फिलहाल दुनिया भर में 500 से भी ज्यादा तरह की क्रिप्टोकरेंसी मौजूद है. उनमें से कुछ की सूची यहां दी जा रही है.

➤ कई क्लोन क्रिप्टोकरेंसी की वजह से यह सिर्फ एक क्रिप्टाकरेंसी की जगह क्रिप्टोकरेंसी का पूरा परिवार बन गया है जिसमें डिजिक्स डीएओ भी शामिल है.

कौन कर सकता है क्रिप्टोकरेंसी का निर्माण? How cryptocurrency works

क्रिप्टोकरेंसी सामान्य तौर पर एक अंतरराष्ट्रीय मुद्रा के तौर पर इस्तेमाल की जाती है या फिर यह भी कहा जा सकता है कि क्रिप्टोकरेंसी अंतराष्ट्रीय मुद्रा का एक विकल्प है. क्रिप्टोकरेंसी का निर्माण कोई भी व्यक्ति, संस्था या संगठन कर सकता है और उसका मूल्य उस व्यक्ति या संस्था की विश्वसनियता बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? पर ही निर्धारित होता है जो बढ़ भी सकता है और समाप्त भी हो सकता है.

जी हां, इसे छापा या ढाला जा सकता है जो किसी क्यूआर कोड या रीडेबल कोड की शक्ल दी जा सकती है जो बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? कई तरह के कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर द्वारा पढ़ा जाता है लेकिन फिलहाल यह शुरू नहीं हुआ है. क्रिप्टोकरेंसी का ज्यादा उपयोग फिलहाल Online सेवाओं और वस्तुओं के भुगतान के तौर पर ही किया जा रहा है.

क्या होता है क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट? कैसे करते हैं इस्तेमाल, जानिए हर जरूरी बात

Cryptocurrency News: भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के फैसले के बाद क्रिप्टोकरेंसी पेमेंट पर बैन हटाने के बाद, भारत में क्रिप्टोकरेंसी का काफी क्रेज बड़ गया है. इसी के साथ आज हमको बता रहे हैं क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट (Cryptocurrency Wallet ) के बारें में

जैसा कि नाम से पता चलता है, ये वॉलेट आपको क्रिप्टो एसेट्स और टोकन स्टोर करने में मदद करते हैं

Cryptocurrency News: भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के फैसले के बाद क्रिप्टोकरेंसी पेमेंट पर बैन हटाने के बाद, भारत में क्रिप्टोकरेंसी का काफी क्रेज बड़ गया है. इसी के साथ आज हमको बता रहे हैं क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट (Cryptocurrency Wallet ) के बारें में

बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है?

बिटकॉइन प्रो के साथ, आपको वे सभी खास विशेषताएं मिलती हैं जो मानक बिटकॉइन (बीटीसी) में होती है। फर्क सिर्फ इतना है कि प्रो संस्करण ज्यादा तेज है, इसकी फीस कम है और यह पूरी तरह से विकेंद्रीकृत है।

बिटकॉइन प्रो के साथ, बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? आपको वे सभी खास विशेषताएं मिलती हैं जो मानक बिटकॉइन (बीटीसी) में होती है। फर्क सिर्फ इतना है कि प्रो संस्करण- एथेरियम नेटवर्क का उपयोग करता है, तेज है, इसकी फीस कम है और यह पूरी तरह से विकेंद्रीकृत है।

कोई भी बिटकॉइन प्रो को बिल्कुल भी नियंत्रित नहीं करता है, यहां तक कि डेवलपर्स भी नहीं, जो बात इसे अन्य सभी क्रिप्टोकरेंसी से बेहतर बनाती है।

डेवलपर्स की टीम ने अपने जीवन के दो पूरे साल बिटकॉइन प्रो में अपने दिल और आत्मा लगा दिए और अंत में यह सारा काम सफल हुआ उनके द्वारा बनाए गए शीर्ष-गुणवत्ता बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? वाले उत्पाद के रूप में। यह हर तरह से बिटकॉइन का प्रो संस्करण है।

बिटकॉइन प्रो के फायदे

वही बिटकॉइन - केवल बेहतर

लेन-देन बिजली जैसी तेज गति से संसाधित किए जाते हैं, केवल कुछ सेकंड में। यह संभव हो पाता है हर एक मिनट में ब्लॉक अपग्रेड करने से, जबकि स्टैंडर्ड बिटकॉइन में हर 10 मिनट में यह होता है।

बिटकॉइन प्रो के साथ अन्य संस्करणों की अपेक्षा माइनिंग की गति बहुत बेहतर है, जो कि पलक झपकते लेनदेन को पूरा करने देती है।

विश्वसनीयता

आपको पता है कि लेनदेन जल्दी, सुरक्षित और विश्वसनीय रूप से गुजरेंगे।

यह चोरी या नेटवर्क विफलताओं के जोखिम को कम करता है जिसे हल करने में कई दिन लग सकते हैं।

न्यूनतम शुल्क

आप मात्र कुछ रुपयों में दुनिया भर में बड़ी रकम भेजने में सक्षम होते हैं। यह आपको लंबे समय में महत्वपूर्ण मात्रा में नकदी बचाता है।

बिटकॉइन बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? प्रो वही विकेन्द्रीकृत बिटकॉइन - केवल बेहतर

बिटकॉइन प्रो: सभी खास विशेषताएं जो स्टैंडर्ड बिटकॉइन (बीटीसी) से जुड़ी हैं केवल प्रो संस्करण तेज है, फीस कम है और पूरी तरह विकेंद्रीकृत है।

कोई भी बिटकॉइन प्रो को बिल्कुल भी नियंत्रित नहीं करता है, यहां तक कि डेवलपर्स भी नहीं, जो बात इसे अन्य सभी क्रिप्टोकरेंसी से बेहतर बनाती है। डेवलपर्स की टीम ने अपने जीवन के दो पूरे साल बिटकॉइन प्रो में अपने दिल और आत्मा लगा दिए और अंत में यह सारा काम सफल हुआ उनके द्वारा बनाए गए शीर्ष-गुणवत्ता वाले उत्पाद के रूप में। यह हर तरह से बिटकॉइन का प्रो संस्करण है।

बिटकॉइन प्रो वॉलेट्स - बिटकॉइन प्रो को कई वॉलेट्स में संग्रहीत किया जा सकता है जिनमें Trezor, Ledger, Myetherwallet और कई अन्य शामिल हैं। शुरू करने के लिए हमारा पसंदीदा और सबसे तेज़ तरीका है, डाउनलोड करें TrustWallet अपने Android या Iphone में , ऐप खोलें और अपने वॉलेट को सुरक्षित करने के लिए प्रक्रिया का पालन करें। सब कुछ सेट होने के बाद आपको की जरूरत होगी बिटकॉइन प्रो - इनवेस्टर्स - यहाँ खरीदें या हमें एक ईमेल भेजिए और हम आपको खरीद के बारे में पूरा निर्देश वापस भेज देंगे - भले ही आप शुरुआत कर रहे हो बिना किसी अनुभव के। Email - ईमेल के जवाब का समय: आमतौर पर 3-4 मिनट और 10 घंटे तक। यदि आपको उस समय सीमा के भीतर कोई प्रतिक्रिया नहीं मिलती है तो अपने स्पैम फ़ोल्डर की जांच करें।

Bitcoin क्या है जिसकी वैल्यू पहुंच सकती है करीब 65 लाख रुपए तक, लोग क्यों हो रहे हैं इसके दीवाने?

Edited by: India TV News Desk
Updated on: December 12, 2017 12:16 IST

What_is_Bitcoin- India TV Hindi

What_is_Bitcoin

नई दिल्ली: बिटकॉइन में आ रही तेजी को देखकर कई निवेशकों के मन में लालच आ रहा है। सन 2008 की आर्थिक मंदी की भविष्यवाणी करने वाले दुनिया के बड़े दार्शनिकों में से एक, नसीम निकोलस तालेब ने कहा है कि इस क्रिप्टोकरंसी की वैल्यू 1 लाख डॉलर (करीब 65 लाख रुपए) तक पहुंच सकती है। 2017 में बिटकॉइन में 1 हजार फीसदी की तेजी आ चुकी है। अगर किसी ने 65 हजार रुपए में 2013 में बिटकॉइन खरीद लिए होते तो आज उसकी कीमत 520 करोड़ रुपए होती है।

बिटकॉइन पर केंद्रीय बैंकों का नियंत्रण नियंत्रण नहीं

पारंपरिक मुद्राओं पर जहां केंद्रीय बैंकों का नियंत्रण होता है, वहीं बिटकॉइन पर ऐसा कोई नियंत्रण नहीं है। यूजर्स, माइनर्स और निवेशकों को मिलाकर बनी एक कम्युनिटी बिटकॉइन को संभालती है। आज तक पता नहीं चल पाया है कि बिटकॉइन बनाने वाले सातोशी नाकामोतो हैं कौन। ऑस्ट्रेलियाई कंप्यूटर वैज्ञानिक और उद्योगपति क्रेग राइट ने मई 2016 में दावा किया कि वह सातोशी नाकामोतो हैं लेकिन वह इसका प्रमाण नहीं दे पाये। यह भी नहीं पता कि सातोशी नाकामोतो एक छद्म नाम था या फिर कंप्यूटर डेवलपर्स के एक समूह या किसी व्यक्ति ने इस नाम का इस्तेमाल किया। यह भी साफ नहीं है कि नाकामोतो अभी जिंदा है या नहीं।

अभी तक सिर्फ 1.67 करोड़ बिटकॉइन बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? ही जारी किये गये हैं। 2140 तक इनकी संख्या 2.1 करोड़ तक पहुंच सकती है। अभी हर दस मिनट में 12.5 बिटकॉइन जारी किये जाते हैं। माइनिंग कंप्यूटरों को चलाने के लिए बहुत ऊर्जा चाहिए। जितना ज्यादा दाम लगता है, उतने ही ज्यादा कंप्यूटर मुकाबले में उतरते हैं। उसी हिसाब से ऊर्जा की खपत बढ़ जाती है।

बिटकॉइन क्या है जाने पूरी विस्तृत जानकारी…

Bitcoin-Kya-Hai

Bitcoin क्या हैं, यह कैसे काम करता हैं, इसको कहां रखा जाता हैं, इसे हम कैसे कमा सकते हैं, दोस्तो ये सारे सवाल आपके मन में जरूर चल रहे होंगे, तो आपको बता दें कि Bitcoin एक digital Asset और एक Payment System हैं जिसे आम तौर पर एक decentralized digital Currency कहा बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? जाता हैं।

दोस्तो जैसा कि हम सभी जानते हैं कि प्रत्येक देश की अपनी अलग-अलग Currency होती हैं जैसे भारत की मुद्रा Rupee, अमेरिका की Doller उसी तरह Bitcoin भी एक Currency हैं, लेकिन यह currency अन्य Currencies से थोड़ी अलग हैं। Bitcoin एक Digital Currency या Vurtual Currency है जिसे हम आप देख या उसे छू नहीं सकते हैं, या इस प्रकार कहा जाये कि यह Basically एक फ्री Software हैं. इसका अर्थ यह है कि कोई भी व्यक्ति, कोई भी कंपनी या कोई भी देश Bitcoin का मालिक नहीं हैं, ठीक उसी तरह जैसे Internate का कोई मालिक नहीं हैं।

Bitcoin का उपयोग क्यों किया जाता हैं।

Basically Bitcoin का उपयोग Online Payment करने के लिए या किसी प्रकार का Transactions करने के लिये किया जाता हैं। Bitcoin का System Peer to Peer हैं. इसका मतलब यह है कि लोग एक दूसरे के साथ सीधा ही बिना किसी बैंक, Credit Card या फिर किसी Company के माध्यम से आसानी से Transaction कर सकते हैं। Bitcoin को Transacions में यूज करने के लिए सबसे सुरक्षित और तेज़ माना जाता हैं।

Bitcoin का उपयोग Online Shopping, Online Payment करने के लिए व Payment Recieve करने के लिए भी किया जाता हैं। आज कल लोग Bitcoin को तेजी से अपना रहे हैं इसमें online Developers, Non-profit organization आदि शामिल हैं। यही कारण है कि Bitcoin का यूज पूरी दुनिया में Global Payment के लिए किया जा रहा हैं।

Bitcoin Wallet क्या है?

Bitcoin एक Digital Currency या Virtual Currency होती हैं जिसे हम सिर्फ Internate की सहायता से ही बिटकॉइन का उपयोग क्यूँ किया जाता है? इस्तेमाल कर सकते हैं और जिस प्रकार हम मुद्रा को संग्रहित (Store) करते हैं उस प्रकार इसे store नहीं किया जा सकता, इस कारण इन्हे स्टोर करने के लिए एक Online Storage की आवश्यकता होती है जिसे Bitcoin Wallet कहा जाता है। Bitcoin Wallet कई प्रकार के होते हैं जिनमें Desktop Wallet, Mobile Wallet, Online/web-based wallet, Hardware wallet आदि. इन Wallets में से किसी एक वॉलेट का यूज करके हम Account बना सकते हैं।

Bitcoin Wallet काम कैसे करता हैं? तो आपको बता दें कि यह हमे एक Unique Id प्रदान कराता हैं। मान लीजिए कि कहीं से आपने Bitcoin को कमाया है, उसे अपने Account में Store करना हैं, तो उसके लिए आपको एक Adress की जरूरत पड़ेगी। उसी की हेल्प से आप Bitcoin को अपने Wallet में मंगाकर स्टोर कर सकते हैं। मान लीजिए आपने Bitcoin को बेंचकर कुछ पैसे कमाए हैं उन पैसों को Bank में Transfer करने के लिए आपको Bitcoin Wallet की जरूरत पड़ेगी।

रेटिंग: 4.18
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 551
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *