क्रिप्टोकरेंसी के फायदे

क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए

क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए
किसी भी प्रश्न के लिए, कृपया नीचे दिए गए विवरण पर हमसे संपर्क करें 080-47480048
[email protected]

बदला शेयर बाजार का मूड, सेंसेक्स में 700 अंकों का उछाल, सभी इंडेक्स में तेजी

क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए?

धातु और खनन क्षेत्र यानी मेटल एंड माइनिंग सेक्टर निवेश के कई अवसर देता है| .
यदि आप एक भारतीय निवेशक हैं तो आप इस क्षेत्र में कीमतों के उतार चढाव यानी प्राइस मूवमेंट का लाभ कैसे उठा सकते हैं? इसका एक तरीका यह है कि आप मेटल स्टॉक्स में निवेश अथवा व्यापार करें|
धातु निर्माण और माइनिंग से जुड़ी कई कंपनियां भारतीय स्टॉक एक्सचेंज की सूची में शामिल हैं| प्रमुख दावेदारों में टाटा स्टील, हिंडालको, कोल इंडिया और जे एस डब्ल्यू स्टील शामिल हैं|
परन्तु क्या आपको इन मेटल स्टॉक्स में व्यापार करना चाहिए?
यदि आप एक सक्रिय निवेशक हैं और निवेश में जोख़िम उठाने को तैयार हैं, तो सीधे तौर पर मेटल स्टॉक्स में व्यापार करके आप इस अवसर का लाभ उठा सकते हैं|
लेकिन यदि आप कंसर्वेटिव (conservative) निवेशक हैं, तो आप निफ़्टी मेटल इंडेक्स को ट्रैक कर सकते हैं| .
कमोडिटी बाज़ार में भाग लेकर/ उतरकर भी मेटल स्टॉक्स में व्यापार किया जा सकता है|
इस बाज़ार में चांदी, सोना, तांबा, एल्युमीनियम, निकल और लेड जैसे मेटल कमोडिटीज़ के डेरिवेटिव्स (derivatives) का व्यापार किया जाता है|
तो आप देख सकते हैं कि मेटल्स और माइनिंग क्षेत्र में निवेश अथवा व्यापार करने के विभिन्न तरीके हैं|
कमोडिटी बाज़ार इनमें से एक विकल्प है|
मेटल कमोडिटीज़ में व्यापार की अधिक जानकारी के लिए, आइए हम अगला अध्याय पढ़ते हैं|

फेस्टिवल सीजन में इन 5 कमोडिटी में लगाएं पैसे, सुरक्षित निवेश के साथ मिलेगा बेहतर रिटर्न

फेस्टिवल सीजन में इन 5 कमोडिटी में लगाएं पैसे, सुरक्षित निवेश के साथ मिलेगा बेहतर रिटर्न

इक्विटी बाजारों में निवेश जोखिमों से बचने के लिए सोने में निवेश करना अच्छा विकल्प हो सकता है.

गणेश चतुर्थी के साथ ही देश में फेस्टिवल सीजन की शुरूआत हो चुकी है. फेस्टिव सीजन में निवेश के लिए लोग भारी संख्या में कमोडिटी खरीदते हैं. ऐसे में हम आप को बताते हैं कि वो कौन सी पांच कमोडिटी हैं, जिनमें समझारी से किया गया निवेश न सिर्फ आपकी पूंजी को सुरक्षित रखेगा, बल्कि बेहतर रिटर्न मिलने की संभावना भी बनी रहेगी.

कमोडिटी- प्रोड्यूसिंग कंपनियों के स्टॉक

कमोडिटी प्रोड्यूसिंग कंपनियों के शेयर्स खरीदना निवेश का एक बेहतर विकल्प हो सकता है. इनमें निवेश से न सिर्फ क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए बाजार में शेयर के दाम बढ़ने का फायदा मिलता है, बल्कि कंपनियां अच्छा मुनाफा होने पर अपने शेयर्स होल्डर्स के लिए डिविडेंड भी देती हैं. हालांकि शेयरों में निवेश करना सोने की खरीद जितना आसान नहीं होता, लेकिन बाजार की जानकारी हो तो अच्छा मुनाफा कमाने की गुंजाइश बनी रहती है.

निफ्टी मेटल इंडेक्स को ट्रैक करने वाले पैसिव इंडेक्स फंड में पैसे लगाना भी कमोडिटी में निवेश करने का एक बेहतर और आसान तरीका हो सकता है. इसके अलावा कमोडिटी में निवेश करने वाले एक्टिव सेक्टोरल फंड में निवेश करके भी कमोडिटी मार्केट की हलचल का लाभ लिया जा सकता है. अगर आप निवेश को लेकर कंफ्यूज हैं और आप के पास कमोडिटी रिसर्च के लिए समय और साधन नहीं हैं, तो ऐसे म्यूचुअल फंड्स में पैसे लगाना आप के लिए बेहतर विकल्प हो सकता है.

गोल्ड में निवेश

हमारे देश में गोल्ड यानी सोने में निवेश की परंपरा रही है. खास कर महिलाओं को आम तौर पर सोने में निवेश करना ज्यादा पसंद आता है. यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि गोल्ड और शेयर्स के रिटर्न में अक्सर उल्टा संबंध रहता है. मतलब ये कि जब शेयर बाजार में गिरावट आती है, तो सोने की कीमतें बढ़ जाती हैं. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लोग बाजार में अस्थिरता आने पर गोल्ड में निवेश करना ज्यादा सुरक्षित मानते हैं.

गोल्ड को बिस्किट या गहने जैसे फिजिकल फॉर्म में भी खरीदा जा सकता है और गोल्ड ईटीएफ (ETF) के तौर पर डिजिटल रूप में भी. सोने को बिस्किट या गहने के रूप में खरीदने के मुकाबले गोल्ड ईटीएफ के माध्यम से निवेश करना ज्यादा कॉस्ट इफेक्टिव होता है. गोल्ड ईटीएफ को बाजार के जरिए बेचने में भी आसानी रहती है. इसके साथ ही सोने में निवेश करने वालों के लिए भारत सरकार द्वारा समय-समय पर कई चरणों में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (sovereign gold bonds) भी जारी किये जाते हैं, जिनमें निवेश पर रिटर्न के अलावा टैक्स सेविंग का लाभ भी मिलता है.

चांदी में निवेश

इस क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए फेस्टिव सीजन में आप सोने के साथ-साथ चांदी में भी निवेश कर सकते हैं. आईसीआईसीआई डायरेक्ट की एक रिसर्च रिपोर्ट में दावा किया गया है कि तेजी से आगे बढ़ रही आर्थिक औद्योगिक इकाइयों के चलते बाजार में चांदी की वैश्विक स्तर पर मांग बनी रहेगी. चांदी में निवेश के दौरान भी आप इसे ठोस या ईटीएफ के रूप में भी खरीद सकते हैं.

एल्युमीनियम को सोने और चांदी के बाद सबसे ज्यादा बिकने वाला मेटल माना जाता है. इसका इस्तेमाल ऑटोमोबाइल समेत हर सेक्टर के उद्योगों में किया जाता है. यही वजह है कि एल्युमीनियम की मांग कभी कम नहीं होती. इस बात का अंदाजा साल 2021 में एल्युमीनियम के दामों में आये भारी उछाल को देखकर लगाया जा सकता है. इस दौरान एल्युमीनियम की कीमत इतिहास के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई थी. एल्युमीनियम की इसी खासियत को देखते हुए इसे निवेश पर बेहतर और सुरक्षित रिटर्न देने वाला माना जाता है.

स्टील स्‍टॉक्‍स में क्‍यों आई तगड़ी गिरावट? Tata Steel, JSW, JSPL, SAIL में लगा लोवर सर्किट

Zee Business हिंदी लोगो

Zee Business हिंदी 23-05-2022 ज़ीबिज़ वेब टीम

Steel Stocks to watch: शेयर बाजार में सोमवार (23 मई 2022) के कारोबार में मेटल सेक्‍टर में तगड़ी गिरावट देखने को मिली. स्‍टील शेयरों में भारी बिकवाली रही. इनमें Tata Steel, JSW, JSPL और SAIL के शेयरों में लोवर सर्किट लगा. दरअसल, सरकार ने बढ़ती महंगाई के बीच एक अहम फैसला लिया है. इसमें कई कई स्टील प्रोडक्‍ट्स पर एक्सपोर्ट ड्यूटी को 0 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी कर दी गई है. सरकार की ओर से जारी नोटिफिकेशन में फ्लैट और लॉन्‍ग दोनों प्रोडक्‍ट्स शामिल है. सरकार के इस फैसले से डिमांड-सप्‍लाई बैलेंस कमजोर हो सकता है. इसका असर स्‍टील स्‍टॉक्‍स पर देखा गया.

Tata Steel, JSW, JSPL, SAIL में लगा लोवर सर्किट

सरकार की ओर से एक्‍साइज ड्यूटी बढ़ाने के फैसले के बाद Tata Steel, JSW, JSPL और SAIL के स्‍टॉक में 23 मई 2022 के ट्रेडिंग सेशन में लोवर सर्किट लगा. शुरुआती ट्रेडिंग सेशन में जिंदल स्‍टील एंड पावर लिमिटेड (JSPL) के शेयर में 16 फीसदी से ज्‍यादा गिरावट देखने को मिली. शेयर में 407.10 रुपये पर लोवर सर्किट लगा. JSW स्‍टील में करीब 13 फीसदी गिरावट आई. शेयर में 567.80 रुपये पर लोवर सर्किट लगा. इसी तरह, स्‍टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAIL) में 10 फीसदी से ज्‍यादा गिरावट आई और 74.70 पर लोवर क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए सर्किट लगा. वहीं, टाटा स्‍टील की बात करें, तो शेयर में 1053.20 रुपये पर लोवर सर्किट लगा. साथ ही स्‍टॉक ने शुरुआती सेशन में 52 हफ्ते (1,003.15 रुपये) का लो भी बनाया.

Zee Business Hindi क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए Live यहां देखें

बढ़ती महंगाई के बीच सरकार का फैसला

केंद्र सरकार ने बढ़ती महंगाई के बीच स्‍टील उत्‍पादों पर एक्‍साइज क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए ड्यूटी बढ़ाने का फैसला किया है. कई स्टील उत्पादों पर एक्सपोर्ट ड्यूटी को 0 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी की गई है. नोटिफिकेशन में फ्लैट और लॉन्ग दोनों प्रोडक्ट्स शामिल है. आयरन ओर पर एक्सपोर्ट ड्यूटी 30 फीसदी से बढ़ाकर 50 फीसदी की गई है. आयरन पेलेट्स पर 45 फीसदी एक्सपोर्ट ड्यूटी लगाई गई है.

सरकार के इस फैसले के बाद इंडस्ट्री का कहना है कि एक्सपोर्ट ऑर्डर्स पूरा करने के लिए 3 महीना का समय देना चाहिए. क्‍योंकि, 20 लाख टन से ज्यादा के एक्सपोर्ट आर्डर पाइपलाइन में हैं. वहीं, सरकार ने कच्चे माल पर इंडस्ट्री को राहत दी है. फरो-निकल, कोकिंग कोल, PCI कोयले पर इम्पोर्ट ड्यूटी 2.5 फीसदी से घटाकर 0 फीसदी कर दिया है. कोक और सेमी-कोक के इम्पोर्ट पर 5 फीसदी ड्यूटी हटाई गई है.

शेयर बाजार में करना चाहते हैं निवेश तो मुनाफा कमाने के हैं ये 5 सीक्रेट

शेयर बाजार में करना चाहते हैं निवेश तो मुनाफा कमाने के हैं ये 5 सीक्रेट

पहले लोग शेयर मार्केट (Share Market) में निवेश को जुआ खेलने के सामान मानते थे-अब ये पुरानी बात है. अब जैसे-जैसे लोगों की फाइनेंशियल लिटरेसी बढ़ रही है, लोग फिक्स्ड डिपाजिट के अलावा कई और निवेश के विकल्पों की तरफ ध्यान दे रहे हैं. कई स्टार्टअप आने की वजह से करोड़ो नये लोग मार्केट से जुड़े हैं और बाजार में अपनी भागेदारी लगातार बढ़ा रहे हैं. लेकिन एक आम निवेशक को शेयर बाजार में निवेश से पहले इन बातों पर ध्यान देना चाहिए.

सही सेक्टर चुनना सबसे जरुरी

अगर आप मार्केट में नये हैं, तो आपके लिए सही सेक्टर का चयन सबसे महत्वपूर्ण है. सही सेक्टर चयन करने के लिए पहले ये समझने की कोशिश करें कि अभी या आने वाले दिनों में किस सेक्टर की ग्रोथ सबसे ज्यादा होगी. आप अपने अगल-बगल हो रही चीजों को ध्यान से ऑब्जरव करके पता लगाने की कोशिश कर सकते हैं अभी कौन सा सेक्टर सबसे अधिक डिमांड में है.

उदहारण के लिए अगर आपको लगता है हमलोग डिजिटल दुनिया की तरफ बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं और आने वाले दिनों में लगभग सभी चीजें डिजिटल हो जाएगी. ऐसे में आप निवेश के लिए IT सेक्टर के स्टॉक्स पर रिसर्च करेंगे. वहीं, अगर आपको लगता हैं आने वाले दिनों में देश में कई कारखाने, इमारतों का निर्माण होगा, तो आपको इंफ्रास्ट्रक्चर स्टॉक्स में निवेश करना चाहिए. मार्केट एनालिस्ट की माने तो अभी के समय के अनुसार भारत में IT, मेटल और इंफ्रास्ट्रक्चर समेत सभी सेक्टर में ग्रोथ की आपार संभावना है.

कंपनी के बिजनेस को अच्छे से समझें

नये रिटेल निवेशक को कभी भी टेलीविजन या कहीं और से मिले टिप पर खरीदारी नहीं करनी चाहिए. किसी भी कंपनी के शेयर में इन्वेस्ट करने से पहले उसके बिजनेस को समझना बहुत जरुरी है. शेयर खरीदने से पहले हमेशा कंपनी के बारे में डिटेल से पढ़े. कंपनी क्या करती है, कंपनी अपने कारोबार से कितना मुनाफा बना रही है, बाकी पियर्स (उसी सेक्टर की दूसरी कंपनियों) की तुलना में ये कंपनी क्यों सबसे अच्छी है, निवेश का डिसिजन लेने से पहले ऐसी तमाम बाते खुद से जरूर पूछे.

कंपनी के फाइनेंशियल को देखकर आप कंपनी के बारे में बहुत चीज चीजें पता कर सकते हैं. हर कंपनी साल में 4 बार (तीन-तीन महीनों पर) अपने तिमाही नतीजे की घोषणा करती है. कंपनी अपने क्वार्टरली रिजल्ट के माध्यम से अपने शेयरहोल्डर्स को अपने प्रॉफिट-लॉस और सारे पैसे का लेखा-जोखा देती है. किसी भी कंपनी का क्वार्टरली रिजल्ट आपको उस कंपनी के ऑफिसियल वेबसाइट पर आसानी से मिल जायेगा. कंपनी के भविष्य के लक्ष्य के बारे में जानने के लिए आपको कंपनी के इन्वेस्टर प्रेजेंटेशन को देखना चाहिए.

क्योंकि कंपनी के फायदे में है आपका फायदा

सही स्टॉक चुनना का सबसे बेसिक तरीका है कि आप उन स्टॉक्स में निवेश करने की सोचे जो कंपनी अपने करोबार से लगातार अच्छा प्रॉफिट बना रही है और उम्मीद है कि आगे भी अच्छा मुनाफा बनाने में कामयाब रहेगी. चूंकि आप उस कंपनी का शेयर खरीद रहे हैं, आप क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए उस कंपनी के मालिक है -भले ही बहुत छोटे हिस्से के ही क्यों ना हो. इसलिए कंपनी के प्रॉफिट में आपका भी हिस्सा है. कई कंपनियों अपने शेयरहोल्डर्स को प्रॉफिट में हिस्सेदारी देने के लिए समय- समय पर डिवीडेंड (Dividend) देती हैं.

जो कंपनियां डिवीडेंड नहीं देती, लेकिन लगातार अपने बिजनेस से अच्छा मुनाफा बना रही हैं, क्या मेटल स्टॉक्स में आपको कारोबार करना चाहिए सामान्य तौर पर आपको वैसी कंपनी काफी अच्छा रिटर्न देते दिखेगी.

5.रिस्क मैनेजमेंट भी जरुरी

आपने शायद बहुत बार पढ़ा होगा मार्केट में होने वाले फायदे से ज्यादा आपको अपने हो सकने वाले नुकसान पर ध्यान रखना चाहिए. कोई भी ट्रेड लेने से पहले उस ट्रेड के रिस्क टू रिवॉर्ड रेश्यो (Risk to Reward Ratio) को जरूर देखें.

ये भी पढ़ें

Edible Oil Price: सस्ते हो रहे खाने के तेल, इन कंपनियों ने घटाए दाम, अगले सप्ताह से कीमत पर दिखेगा असर

Edible Oil Price: सस्ते हो रहे खाने के तेल, इन कंपनियों ने घटाए दाम, अगले सप्ताह से कीमत पर दिखेगा असर

Agnipath Protest: यूपी, बिहार, झारखंड, बंगाल, असम, अरुणाचल जाने वाली 42 ट्रेनें आज रहेंगी रद्द, देखें पूरी लिस्ट

Agnipath Protest: यूपी, बिहार, झारखंड, बंगाल, असम, अरुणाचल जाने वाली 42 ट्रेनें आज रहेंगी रद्द, देखें पूरी लिस्ट

बाजार में अनिश्चितता के बीच निवेश में लाएं विविधता, इस फॉर्मूले की मदद से अपने पैसे का उठाएं पूरा फायदा

रेटिंग: 4.13
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 794
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *